बेहतर टेस्ट लेने की क्षमता आपके स्कोर को 25 % तक बढ़ा सकती है और वह भी नया कुछ सीखे बिना|

ऐसे उदाहरण देखे गए हैं जहाँ विद्यार्थियों ने Embibe में टेस्ट्स दिए हैं और जिसके परिणाम स्वरूप उनके अंकों में करामाती वृद्धि देखि गयी है | JEE मेन परीक्षा में एक ही टेस्ट देने के पश्चात टेस्ट लेने की क्षमता में 7 से  28, 112 से  179 और  320 से 345 अंकों की वृद्धि देखि गयी है |

इम्प्रूवमेंट प्लान के 2 सेक्शन हैं :

1) हासिल किया गया स्कोर  :
प्रवर्ति दिखाकर आपको यह बताया जाता है की आपने विषयों के बीच किस प्रकार अंकों को अर्जित किया है |

2) एफर्ट रेटिंग :
आप अपने व्यवहार की व्यक्तिगत प्रतिक्रिया देख सकते हैं और यह भी देख सकेंगे की अपने टेस्ट लेने के रवैये को कैसे बेहतर किया जाए |

95 % से भी अधिक विद्यार्थी अपने ज्ञान को अंक अर्जित करने के लिए उपयोग में लाने में असमर्थ रहते हैं , क्योंकि उनकी टेस्ट लेने की क्षमता को सुधारने के साधन उन्हें पता नहीं होते हैं | इसका मतलब यह हुआ की बिना कुछ नया ज्ञान कमाए आप अपने सुधार देख सकते हैं | अच्छी एफर्ट रेटिंग के लिए अपने अध्यन की रणनीति को सावधानी से पढ़ें |

आप उपलब्धि हासिल करने वाले विद्यार्थियों की स्टोरीज़ देखकर सीख सकते हैं और अपनी रणनीति में सुधार कर सकते हैं |
इसलिए, लगातार सुधार के लिए आपको लगातार रैंक अप अनुदेशों का पालन करते रहना होगा |

अधिक जानकारी के लिए इस विडियो को देखें :

To see this page in English, Click here.

Did this answer your question?